मुख्यमंत्री राजश्री योजना A to Z जानकारी | Mukhyamantri Rajshree Yojana

Mukhyamantri Rajshree Yojana सरकारे निरंतर बेटियों के सम्मान और उनके विकास के लिए अनेक योजनाओं की शुरुआत करती रहती है और इसी कड़ी में राजस्थान सरकार ने मुख्यमंत्री राजश्री योजना की शुरुआत की थी तो यहाँ आपके लिय यह जानना जरुरी है की मुख्यमंत्री राजश्री योजना क्या है, इसके उद्देश्य, पात्रता, और आवेदन कैसे किया जाता है तो करेंगे पड़ताल सटीक और सरल सब्दो में बस बने रहे आर्टिकल के अंत तक 

मुख्यमंत्री राजश्री योजना

Mukhyamantri Rajshree Yojana की शुरुआत 2016 में की गई थी। इस योजना के जरिए समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण को बढ़ावा दिया जा रहा है। इस आर्टिकल के माध्यम से मुख्यमंत्री राजश्री योजना की पूरी जानकारी आप तक पहुँचाई जाएगी। इसे पढ़कर, आप मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लाभ, लक्ष्य, पात्रता, जरूरी दस्तावेज, विशेषताएं, आवेदन प्रक्रिया आदि के बारे में जानकारी प्राप्त कर पाएंगे। यदि आप मुख्यमंत्री राजश्री योजना 2023 के लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपसे अनुरोध है कि आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

Mukhyamantri Rajshree Yojana

Mukhyamantri Rajshree Yojana 2023

राजस्थान सरकार ने 2016-17 में मुख्यमंत्री राजश्री योजना को शुरु किया था। इस योजना का उद्देश्य समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण को बढ़ाना व साथ ही उनके स्वास्थ्य और शैक्षणिक क्षेत्र में सुधार करना है आप को बता दे की Mukhyamantri Rajshri Yojana का लाभ उन बालिकाओं को मिलेगा जिनका जन्म 1 जून 2016 या उसके बाद हुआ है।

Mukhyamantri Rajshri Yojana के अंतर्गत, बालिकाओं को ₹50000 की आर्थिक मदद प्रदान की जाती है। यह वित्तीय सहायता बालिकाओं को छह किस्तों में मिलती है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की किस्ते

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के द्वारा बालिकाओं के जन्म से लेकर विभिन्न कक्षाओं में प्रवेश करने पर आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। आइये इसे थोडा डिटेल से समझते है

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की पहली क़िस्त-

Mukhyamantri Rajshree Yojana की पहली क़िस्त बालिका के जन्म के समय उसके परिवार को आर्थिक सहायता के लिय दी जाती है इस क़िस्त की राशी 2500 रू है

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की दुसरी क़िस्त –

Mukhyamantri Rajshree Yojana की दुसरी क़िस्त बालिका जब 1 वर्ष की हो जाती है उस समय उसके परिवार को आर्थिक सहायता के लिय दी जाती है इस क़िस्त की राशी भी 2500 रू है यह क़िस्त परिवार को तभी मिलती है जब बच्ची का टीकाकरण पूरा हो गया हो

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की तीसरी क़िस्त –

Mukhyamantri Rajshree Yojana की तीसरी क़िस्त तब मिलती है जब बालिका का किसी भी सरकारी स्कूल में पहली कक्षा में प्रवेश करवाया जाता है, इस क़िस्त की राशी ₹4000 दी जाती है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की चोथी क़िस्त –

इस योजना की चोथी क़िस्त बालिका द्वारा किसी भी सरकारी स्कूल में 6वीं कक्षा में प्रवेश करने पर दी जाती है, इस क़िस्त की राशी ₹5000 मिलती है ।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की पाचवी क़िस्त –

मुख्यमंत्री राजश्री योजना योजना की पाचवी क़िस्त बालिका द्वारा किसी भी सरकारी स्कूल में की 10 वीं कक्षा में प्रवेश करने पर दी जाती है, इस क़िस्त की राशी ₹11000 मिलती है ।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की छटवी क़िस्त –

Mukhyamantri Rajshree Yojana की छटवी क़िस्त तब मिलती है जब बालिका का किसी भी सरकारी स्कूल से कक्षा 12 उत्तीर्ण कर लेती है, इस क़िस्त की राशी ₹25000 दी जाती है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में बालिका जन्म के प्रति पॉजिटिव परिवेश तैयार करते हुए बालिकाओं  का समग्र विकास करना है इस योजना के अंतर्गत लड़कियों के साथ लालन-पालन शिक्षा – स्वास्थ्य के मामलो में होने वाले भेदभाव को रोकना या कम करना है

इस योजना से समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण को बढ़ावा देना एवं बालिकाओं के समग्र विकास को सुनिश्चित करना है। इस योजना से बालिकाओं के पालन-पोषण, शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में होने वाली असमानताओं को को कम करने में काफी सहायता मिलेगी, साथ ही उन्हें उच्च शिक्षा और बेहतर स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान की जा सकेगी।

Mukhyamantri Rajshree Yojana संस्थानों में बालिकाओं के आगमन को प्रोत्साहित करके मातृत्व की मृत्यु दर को कम करने में सहायक होगी। इसके अतिरिक्त, योजना के चलते बालिका शिशु मृत्यु दर कम होने और लिंग संतुलन में सुधार होने की संभावना है। मुख्यमंत्री राजश्री योजना बालिकाओं के विद्यालयीन नामांकन और स्थायित्व को भी बढ़ाती है, और उन्हें समाज में समानता का अधिकार देती है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के फायदे

Mukhyamantri Rajshree Yojana के कुछ लाभ इस प्रकार हैं :-

  • इस योजना के द्वारा समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण बढ़ाने के प्रयास किए जा रहे है।
  • यह योजना राजस्थान में बालिका अनुपात में सुधार करने में मदद कर रही है।
  • यह योजना राजस्थान में लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देता है।
  • इस योजना से राजस्थान में बाल विवाह और बाल मृत्यु दर को कम करने में मदद मिलेगी
  • इस योजना से एक बालिका के माता-पिता / अभिभावक को वित्तीय सहायता मिलेगी ।
  • यह राजस्थान में लड़कियों के लिए जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करेगी।
  • मुख्यमंत्री राजश्री योजना एक मूल्यवान पहल है जो राजस्थान में लड़कियों के जीवन में सकारात्मक बदलाव ला रही है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की विशेषताएं

मुख्यमंत्री राजश्री योजना, राजस्थान सरकार की एक सरकारी योजना है जिसका उद्देश्य बालिका अनुपात में सुधार करना और राज्य में लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देना है। इस योजना की कुछ महत्वपूर्व विशेषताएं

  • जिन बालिकाओं का जन्म 1 जून 2016 या उसके बाद हुआ हैं, उन्हें इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • Mukhyamantri Rajshree Yojana योजना के अंतर्गत, बालिकाओं को ₹50000 की आर्थिक सहायता दी जाती है।
  • यह आर्थिक सहायता बालिकाओं या उनके परिवार को 6 किश्तों में प्रदान की जाती है।
  • यह एक सरकारी योजना है जिसका उद्देश्य बालिका अनुपात में सुधार करना और राजस्थान में लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देना है।
  • बालिका के माता-पिता / अभिभावक राजस्थान के निवासी होने चाहिए और बालिका का राजस्थान के किसी स्कूल या कॉलेज में दाखिला होना चाहिए।
  • Mukhyamantri Rajshree Yojana योजना के लिए आवेदन ऑनलाइन या ऑफलाइन किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की पात्रता

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की पात्रता के बारे में जानकारी निम्नलिखित है:

  • बालिका का जन्म 1 जून 2016 के बाद में होना चाहिए।
  • बालिका के माता-पिता/अभिभावक राजस्थान के निवासी होने चाहिए।
  • परिवार का जनाधार कार्ड होना जरुरी है जिसमे बालिका का नाम होना चाहिए।
  • बालिका को राजस्थान के किसी सरकारी स्कूल में नामांकित होना जरुरी है।
  • बालिका किसी अन्य सरकारी योजना की लाभार्थी नहीं होनी चाहिए जो शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है।
  • केवल राजस्थान के स्थायी निवासी ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। राज्य के बाहर में संस्थागत प्रसव कराने वाली राज्य की प्रसूताओं को जननी सुरक्षा योजना के तहत जन्म प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना आवश्यक होगा। इस योजना का लाभ केवल राज्य सरकार के चिकित्सा संस्थान द्वारा प्रदान किया जाएगा। राज्य के बाहरी प्रसूताओं को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा
  • पहली और दूसरी किस्त का लाभ संस्थागत प्रसव से उत्पन्न हुई सभी बालिकाओं को दिया जाएगा।
  • तीसरी और उसके बाद की किस्तों का लाभ केवल दो जीवित बच्चों तक ही मिलेगा।
  • पहली और दूसरी किस्त के अलावा, अन्य किस्तों का लाभ उन्हीं बालिकाओं को मिलेगा जिनके परिवार में जीवित बच्चों की संख्या दो से अधिक नहीं है।
  • यदि ऐसी बालिका की मृत्यु हो जाती है जिसे एक या दो किस्त का लाभ प्राप्त हुआ है, तो उसके माता-पिता की जीवित बच्चों की संख्या में कमी होगी और अगर उसके बाद एक और बालिका होती है, तो वह लाभ प्राप्त करने के लिए योग्य होगी।
  • पहली किस्त का लाभ प्राप्त करने के लिए, राज्य और स्वास्थ्य विभाग द्वारा मान्यता प्राप्त निजी चिकित्सा संस्थानों में जन्म लेना जरूरी होगा।
  • दूसरी किस्त का लाभ स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्ड या ममता कार्ड के अनुसार सभी टीके लगवाने पर मिलेगा।
  • सभी पहली किस्त की लाभार्थी बालिकाओं को आंगनवाड़ी केंद्र से जोड़ने का प्रयास भी किया जाएगा।
  • अगली किस्त केवल तब प्रदान की जाएगी जब लाभार्थी ने पहले की किस्तों की राशि प्राप्त कर ली हो।
  • बालिकाओं को इस योजना के फायदे केवल तभी मिलेंगे जब वे राज्य सरकार द्वारा प्रबंधित शिक्षण संस्थानों में पढ़ रही होंगी।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के बारे में कुछ अहम निर्देश:

  1. एक वर्ष पूरे होने के बाद, बालिका का टीकाकरण ऑनलाइन सत्यापित होने के उपरांत, स्वास्थ्य विभाग द्वारा लाभ की राशि माता-पिता या अभिभावक के खाते में भेजी जाएगी।
  2. बालिका का जन्म होते ही उसे एक अद्वितीय पहचान संख्या प्रदान की जाएगी।
  3. पहले और दूसरे भुगतान के लिए आवेदन करने की जरूरत नहीं होगी।
  4. टीकाकरण का प्रमाण स्वीकृत होने के बाद, दूसरी किस्त जारी की जाएगी।
  5. शुभ लक्ष्मी योजना के अनुसार, पहले और दूसरे भुगतान का लाभ बालिका को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग द्वारा प्रदान किया जाएगा।
  6. पहली कक्षा में प्रवेश के बाद, तीसरी किस्त जारी की जाएगी।
  7. तीसरी किस्त प्राप्त करने के लिए, ऑनलाइन आवेदन जमा करना होगा, जिसमें मातृ शिशु सुरक्षा कार्ड, विद्यालय प्रवेश प्रमाण पत्र, और दो संतानों की घोषणा समेत अन्य दस्तावेज़ शामिल होंगे।
  8. सभी ऑनललाइन आवेदनों की मंजूरी कार्यक्रम अधिकारी द्वारा दी जाएगी।
  9. लाभार्थी के खाते में लाभ की राशि ऑनलाइन ट्रांसफर की जाएगी।
  10. Mukhyamantri Rajshree Yojana के तहत चौथी, पांचवी, छठी और सातवी किस्त प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप में आवेदन करना होगा।
  11. आवेदन के साथ विद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र अपलोड करना अनिवार्य होगा।
  12. इसके अतिरिक्त, 12वीं कक्षा पास करने के बाद, मार्कशीट की प्रति आवेदन के साथ अपलोड करनी होगी।
  13. Mukhyamantri Rajshree Yojana का प्रबंधन महिला और बाल विकास विभाग करेगा।
  14. Mukhyamantri Rajshree Yojana योजना की समीक्षा प्रतिमाह जिला कलेक्टर द्वारा की जाती है ।
  15. Mukhyamantri Rajshree Yojana के सफल संचालन के लिए, राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर निर्देश जारी किए जाएंगे और इन निर्देशों में आवश्यकतानुसार संशोधन किया जाएगा।

Mukhyamantri Rajshri Yojana आवश्यक दस्तावेज

Mukhyamantri Rajshree Yojana में आवेदन करने के लिय दस्तावेज निम्नलिखित है

  1. माता-पिता का आधार कार्ड
  2. माता-पिता का भामाशाह कार्ड
  3. बालिका का आधार कार्ड
  4. बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  5. मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्ड
  6. ममता कार्ड
  7. विद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र
  8. दो संतानों के संबंध में स्वघोषणा पत्र
  9. 12वीं कक्षा की अंक तालिका
  10. मोबाइल नंबर
  11. ईमेल आईडी
  12. पास पोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का आवेदन

मुख्यमंत्री राजश्री योजना मैं आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड में आवेदन किया जा सकता है इसके लिए आप अपने नजदीकी e-mitra पर जाकर संपर्क कर सकते हो,  जिन बालिकाओं का दाखिला स्कूल में करवाया जा चुका है उनकी आगे की किस्मों के लिए विद्यालय में संपर्क करना होगा

Mukhyamantri Rajshree Yojana / मुख्यमंत्री राजश्री योजना का आवेदन निम्नलिखित तरीके से किया जा सकता है:

  • आवेदन पत्र: सबसे पहले, आपको योजना के आवेदन पत्र को आपके नजदीकी सरकारी कार्यालय या वेबसाइट से डाउनलोड करना होगा। आप इसे हिंदी या राजस्थानी भाषा में प्राप्त कर सकते हैं।
  • आवश्यक दस्तावेज: आवेदन पत्र के साथ, आपको अपनी पहचान प्रमाण पत्र, आवासीय प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, बैंक खाता विवरण, छात्रों के लिए शिक्षा संबंधित दस्तावेज, स्वास्थ्य संबंधित दस्तावेज आदि की प्रमाणित प्रतियां साथ में जमा करनी होंगी।
  • आवेदन जमा: सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ, आपको अपने नजदीकी सरकारी कार्यालय में जाकर आवेदन को जमा करना होगा। वहां आपको आवेदन पत्र और सभी दस्तावेजों की सत्यापन करनी होगी।
  • अनुशासनात्मक प्रक्रिया: आपका आवेदन सरकारी निर्णय लेने के लिए संबंधित निदेशालय या अधिकारी के पास भेजा जाएगा। वे आपके आवेदन की समीक्षा करेंगे

Mukhyamantri Rajshree Yojana से संबन्धित FAQ

Mukhyamantri Rajshree Yojana के इस आर्टिकल के माध्यम से मुख्यमंत्री राजश्री योजना जैसे “योजना, लाभ, उद्देश्य, पात्रता मानदंड, विशेषताएँ, आवश्यक दस्तावेज़,आवेदन प्रक्रिया” की सटीक जानकारी देने का भरपूर प्रयास किया गया है। फिर भी Rajshree Yojana से सम्बंधित कुछ सवाल जो अक्सर लोगो के मन में रहते है जैसे —

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का आवेदन कैसे करे ..?

मुख्यमंत्री राजश्री योजना मैं आवेदन करने के लिय ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड शुरु किय गए है इसके लिए आप अपने नजदीकी e-mitra पर जाकर संपर्क कर सकते है,  जिन बालिकाओं का दाखिला स्कूल में करवाया जा चुका है उनकी आगे की किस्मों के लिए विद्यालय में संपर्क करना होगा

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की अंतिम तिथि क्या है

Mukhyamantri Rajshree Yojana योजना में अलग अलग क़िस्त को लेकर अलग अलग तरह से आवेदन होते है और उसी के अनुसार इसकी अंतिम तिथि राखी जाती है जैसे पहली और दूसरी क़िस्त के लिय कभी भी आवेदन किया जा सकता है जबकि आगे की किस्तों के लिय हर वर्ष एक अंतिम तिथि निर्धारित की जाती है

मुख्यमंत्री राजश्री योजना में कितनी राशि दी जाती है

Mukhyamantri Rajshree Yojana में 6 किस्कुतों में कुल राशि 50000 दी जाती है इसमे बच्ची के जन्म के समय परिवार को 2500 रू दिय जाते है इसके बाद 1 वर्ष होने पर फिर 2500 रु मिलते है इसके बाद क्रमशः 4000, 5000, 11000 और आखरी क़िस्त के रूप में 25000 रु की राशि दी जाती है

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की तीसरी क़िस्त कब मिलती है

राजश्री योजना की तीसरी किस्त के भुगतान के लिए छात्राओं द्वारा आवेदन पत्र सरकारी स्कूल प्रधान के माध्यम से शाला दर्पण पोर्टल पर अपलोड करवाना होता है यह किस्त छात्रा को तब मिलती है जब वह  किसी भी सरकारी संस्था में प्रवेश ले लेती है

मुख्यमंत्री राजश्री योजना की किस्त कैसे चेक करें

मुख्यमंत्री राजश्री योजना में  मैं अगर आवेदन किया है तो इसका स्टेटस चेक किया जा सकता है इसके लिए ऑनलाइन प्रोसेस है कोई भी व्यक्ति अपने बच्चे का नाम देखने के लिए राजस्थान शाला दर्पण वेबसाइट पर जाकर देख सकता है

Mukhyamantri Rajshree Yojana conclusion

उम्मीद मुख्यमंत्री राजश्री योजना | Mukhyamantri Rajshree Yojana का यह आर्टिकल आपकी राजस्थान सरकार की इस योजना या इससे सम्बंधित जानकारी के लिए हेल्पफुल साबित हुआ है आपके सुझाव और कमेंट सादर आमंत्रित है इसी प्रकार की जानकारीयो को वीडियो के रूप में जानने के लिए हमारे युटुब चैनल Click Here का विजिट करें,  शुक्रिया

यह भी जाने 👇👇

👉SBI- सबसे सस्ती इंश्योरेंस पॉलिसी | PAI 1000 में 20 लाख
👉उदयपुर के प्रमुख पर्यटन स्थल | Udaipur Tourist Places

Leave a Comment

error: Content is protected !!